भूमि अधिग्रहण संशोधन बिल सहित अन्‍य मुद्दों को लेकर विपक्ष ने किया राजभवन मार्च

रांची : राज्य सरकार की भूमि अधिग्रहण नीति, विधायकों के खरीद फरोख्‍त, स्वामी अग्निवेश के हमले के विरोध में संयुक्त विपक्ष ने मोरहाबादी से लेकर राजभवन तक मार्च किया. इसमें विशेष रूप से विपक्ष की एकजुटता दिखाई दी. राजभवन मार्च के दौरान सरकार की जनविरोधी नीतियों के खिलाफ जमकर नारेबाजी की गई.

राजभवन मार्च सह राजभवन सभा में झाविमो सुप्रीमो बाबूलाल मरांडी भी शामिल हुए. सभा को संबोधित करते हुए बाबूलाल ने कहा कि सरकार के रवैये से जनता त्रस्त हो चुकी है. आज राज्य में कोई सुरक्षित नहीं है. इस मौके पर कांग्रेस नेता सुबोधकांत सहाय, झाविमो के केंद्रीय सचिव राजीव रंजन मिश्रा समेत कई विपक्षी नेताओं ने अपने विचार रखे.




विरोध मार्च में ये लोग हुए शामिल

राजभवन मार्च सह राजभवन सभा में मुख्य रूप से झाविमो के केंद्रीय महासचिव बंधू तिर्की, केंद्रीय प्रवक्ता योगेंद्र प्रताप, महिला मोर्चा की केंद्रीय अध्यक्ष शोभा यादव, महानगर अध्यक्ष सुनील गुप्ता, ग्रामीण जिलाध्यक्ष प्रभुदयाल बड़ाईक, ग्रामीण जिला उपाध्यक्ष राहुल शाहदेव, मीडिया प्रभारी पंकज पाण्डे, शिवा कच्छप, सुनीता सिंह, गीता नायक, अनिशा प्रवीण, ममता सेन, बालकु ओरांव, सूरज टोप्पो, कन्हैया महतो, सुरेश शर्मा, अशोक श्रीवास्तव सहित सैकड़ों कार्यकर्ता शामिल हुए. इससे पूर्व झाविमो के सैकड़ों कार्यकर्ता झंडा-बैनर एवं ध्वनि यंत्र के साथ विरोध किया.





WhatsApp chat Live Chat