रांची: 10 घंटे अंधेरे में डूबी रांची, गर्मी से लोगों का हुआ बुरा हाल

ranchi in blackout for 10 hours रांची: कहने को तो झारखण्ड में मॉनसून कब का आ गया है लेकिन उमस और गर्मी से लोग अभी भी परेशान है. इस परेशानी को कम तो नहीं किया जा सकता लेकिन बिजली विभाग इसे बढ़ा जरुर रहा है. कल यानी शुक्रवार को सुबह साढ़े आठ बजे से शाम लगभग सात बजे तक रांची सहित कई इलाकों में बिजली नदारद रही. गर्मी और उमस से लोगों को काफी परेशानी हुई.

देवघर: बेटी हुई पैदा, तो नाराज पिता ने गला घोंट कर दी दुधमुंही की हत्या

जानकार के मुताबिक, 20 जुलाई को सुबह साढ़े आठ के लगभग पीजीसीआइएल के नामकुम ग्रिड से हटिया 2 ग्रिड तक 220 केवी लाइन में फाल्ट आ गई थी. इस कारण हटिया ग्रिड में बिजली सप्लाई ठप पड़ गई. इसी लाइन से रांची सहित खूंटी, लोहरदगा, गुमला, सिमडेगा, लातेहार, गढ़वा और पलामू में बिजली आपूर्ति की जाती है. खराबी के कारण बिजली सप्लाई बंद हो गई, जिससे इन इलाकों में टोटल ब्लैक आउट हो गया.




सऊदी अरब जाने वाले हज यात्री एक लिमिट में ले जा सकते हैं 2000 के करेंसी नोट

रांची में सिर्फ विधानसभा, सीएम आवास, राजभवन, रिम्स, रेलवे, एचइसी और कोकर जैसे इलाकों में ही बिजली सामान्य थी. बाकी हर तरफ ब्लैक आउट था. शाम को साढ़े पांच के लगभग फीडर ठीक हुआ लेकिन बिजली की सप्लाई शाम साढ़े 6 के बाद ही हो पाई.

मानसून सत्र : सत्‍ता पक्ष और विपक्ष में नोंक-झोंक के बीच नौ विधेयक पारित

इस दौरान पूरी रांची हाय-हाय कर रही थी. गर्मी और उमस से लोग परेशान रहे. साथ ही पीने के पानी की भी समास्या लोगों के सामने आई.





WhatsApp chat Live Chat