पुलिस अलंकरण समारोह, CM रघुवर ने कहा- स्थिर सरकार ने बदली राज्य की स्थिति

Ranchi Police raiding ceremony CM Raghuvar said stable government changed status stateरांची: पुलिस महकमा का अलंकरण समारोह 14 नवंबर को जैप-1 ग्राउंड डोरंडा में संपन्न हुआ. इस कार्यक्रम में मुख्यमंत्री रघुवर दास ने बतौर मुख्य अतिथि शिरकत की. इस दौरान कुल 64 पुलिस अदाधिकारियों को विशिष्ट सेवा के लिए राज्यपाल पदक, वीरता के लिए मुख्यमंत्री पदक व सराहनीय सेवा के लिए झारखंड पुलिस पदक से सीएम ने अलंकृत किया. इस दौरान 7 शहीदों के परिजनों को सम्मानित किया. वहीं 5 शहीदों के परिजनों को नियुक्ती पत्र भी दिया गया.

कार्यक्रम की शुरुआत में डीजीपी ने सीएम का स्वागत किया. डीजीपी ने संबोधित करते हुए कहा कि हमारा मनोबल बढ़ा है. 18वें स्थापना वर्ष में सबसे ज्यादा मैडल झारखंड पुलिस ने जीता है. डीजीपी ने कहा कि झारखंड अब अपराध और नक्सलवाद मुक्त बन रहा है. सबका साथ सबका विकास सीएम की सोच रही है. जिसका परिणाम है कि आज हर गांव का विकास हो रहा है. उन्होंने कहा कि सीएम ने रोजगार देने का संकल्प लिया था. उन्होने कहा 1400 दिन में 15 हजार नियुक्ति की गई है. सुदूर गांव में नक्सलियों से बच्चों को सुरक्षित कर सहायक पुलिस बनाया गया. इस दौरान डीजीपी ने सीएम को विश्वास दिलाया कि राज्य अपराध और नक्सल मुक्त होगा. इस दौरान राष्ट्रपति द्वारा समानित प्रवीण झा को भी सीएम ने समान्नित किया. वहीं खूंटी एसपी, डीआईजी प्रभात कुमार, जमशदेपुर एसएसपी अनूप बिरथरे और ग्रामीण एसपी रांची को भी सीएम ने सम्मानित किया.

कार्यक्रम के संबोधन में सीएम ने राज्यवासियों को झारखंड के 18वें स्थापना दिवस की बधाई दी. सीएम रघुवर दास ने पुलिस पदक पाने वालों को भी बधाई दी. उन्होंने कहा किसी भी सेवा में सम्मान पाना जीवन का बहुमूल्य पल होता है. सीएम रघुवर ने कहा कि इन 18 वर्षों में काफी काम हुए हैं. लेकिन स्थिर सरकार ने राज्य की स्थिति को बदला है. आज देश दुनिया सरकार का ये चार साल बेदाग रहा है.


उग्रवाद खत्म करने की जरुरत

इस मौके पर उन्होंने झारखण्ड पुलिस को बधाई दी और कहा कि झारखंड पुलिस आने वाले समय में अपने लक्ष्य को पूरा करे. उन्होंने कहा कि आज हमें उग्रवाद मुक्त झारखण्ड बनाने की जरूरत है. सीएम ने कहा कि 80 फीसदी तक उग्रवाद समाप्त हो चुका है और बाकी के जो 20 फीसदी बचे हैं उन्हें भी खत्म करने की जरुरत है.

साइबर क्राइम राज्य के लिए कलंक

रघुवर ने कहा कि मुखौटा ओढ़ कुछ गुंडे लेवि वसूल रहे हैं. उन्होंने अनुरोध किया कि पुलिस को डिजिटल किया जाना चाहिए. आज नए तरीके से अपराध हो रहा है. दो से तीन जिलों में साइबर क्राइम राज्य के लिए कलंक बना हुआ है. इसको समाप्त करने की जरूरत है. राज्य के लिए साइबर क्राइम एक चुनौती बन गई है.  उन्होंने कहा कि दक्षतायुक्त पुलिस की नियुक्ति होनी चाहिए ताकि शहर में अमन चैन स्थापित रहे. इस दौरान उन्होंने शहीदों के परिजनों को घर देने की बात कही. उन्होंने कहा कि 13 महीने का वेतन का वादा जरुर पूरा होगा. नए साल में यह तोहफा मिलेगा.





Loading...
WhatsApp chat Live Chat