रानी मुर्मू को मिला संथाली का साहित्‍य अकादमी युवा पुरस्‍कार

raniजमशेदपुर : साहित्य अकादमी नयी दिल्ली की ओर से साहित्य अकादमी युवा पुरस्कार-2018 के तहत सम्मानित किये जानेवाले साहित्यकारों की सूची जारी कर दी गयी है. शुक्रवार को गुवाहाटी में अध्यक्ष चंद्रशेखर कंबार की अध्यक्षता में एक बैठक बुलायी गयी थी. इस बार संथाली का साहित्य अकादमी युवा पुरस्कार संथाली साहित्यकार जमशेदपुर के देवघर (बीरडीह) की रहनेवाली रानी मुर्मू को दिया गया है.


राज्‍य में विधि-व्यवस्था ध्वस्त, हर तरफ भय, भूख और भ्रष्‍टाचार का आलम : अन्‍नपूर्णा देवी

रानी मुर्मू को यह पुरस्कार उनकी संथाली कहानी संग्रह ‘होपोन मइया: कुकमू’ (छोटी बहन का सपना) के लिए दिया गया है. साहित्य अकादमी युवा पुरस्कार जीतनेवाली रानी मुर्मू संथाली साहित्यकार होने के साथ-साथ पेशे से आरवीएस कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी जमशेदपुर में ट्रेनिंग एवं प्लेसमेंट सेल में सपोर्टर के रूप में काम करती हैं.


IIM के 10 दिवसीय इंडक्शन कार्यक्रम के अंतिम दिन पहुंचे जयंत सिन्‍हा, विद्यार्थियों को सिखाये मैनेजमेंट के गुर

रानी मुर्मू ने वर्ष 2011 में रांची यूनिवर्सिटी से राजनीति शास्त्र से बीए पास किया. उनके पिता बुधराय मुर्मू वर्ष 2010 में स्वर्णरेखा प्रोजेक्ट से रिटायर्ड हुए हैं. वे फिलहाल आसेका देवघर ब्रांच के सचिव हैं. वे बच्चों को संथाली पढ़ाना-लिखना सीखाते हैं. माताजी सीता मुर्मू साधारण गृहिणी हैं.



Loading...
WhatsApp chat Live Chat