रविन्द्र राय ने बाबूलाल पर ठोंका 10 करोड़ के मानहानि का मुकदमा

rawindra rai filed 10 crore rupees fine on babulal marandi रांची: कोडरमा से भाजपा के सांसद रवींद्र राय ने विधायकों की खरीद-फरोख्त का आरोप लगाने वाले जेवीएम सुप्रीमो बाबूलाल मरांडी को मंगलवार को कानूनी नोटिस भेजा है. राय की ओर से हाई कोर्ट के अधिवक्ता विजय कुमार राय ने उक्त नोटिस भेजा है. इस नोटिस में कहा गया है कि बाबूलाल के इस कार्य से उनकी सामाजिक व राजनीतिक प्रतिष्ठा का हनन हुआ है. 15 दिनों के अंदर बाबूलाल सार्वजनिक रूप से माफी मांगें. इसके लिए उन्हें राज्य के प्रतिष्ठित अखबारों में माफीनामा छपवाना होगा या फिर दस करोड़ रुपये हर्जाने के रूप में देना होगा.

धनबाद: सुहागरात पर बीवी ने सुनाई प्रेमी की दास्तान, पति ने मोबाइल पर किया रिकॉर्ड




बाबूलाल अगर ऐसा नहीं करते हैं तो उनके खिलाफ आपराधिक मामला और मानहानि का मुकदमा दर्ज कराया जाएगा. नोटिस भेजने वाले अधिवक्ता ने बताया कि उक्त नोटिस में पूरी घटना का जिक्र किया गया है. जिसमें कहा गया है कि रवींद्र राय के लेटर पैड को स्कैन कर विधायकों की ख्ररीद-फरोख्त से संबंधित तैयार फर्जी दस्तावेज को बाबूलाल ने राज्यपाल को सौंपा है. इसके जरिए दलबदल के मामले में विधानसभा में चल रही सुनवाई को प्रभावित करने की कोशिश की गई है.

 DPS रांची का 29वां स्थापना दिवस, हुए कई रंगारंग कार्यकर्म

राज्यपाल को पत्र सौंपे जाने के बाद रवींद्र राय की ओर से बाबूलाल को सात दिनों में स्थिति स्पष्ट करने का समय दिया गया था, लेकिन बाबूलाल की ओर से इस मामले में सात दिनों में कोई सफाई नहीं दी गई. जिसके बाद उन्हें कानूनी नोटिस भेजी गई है.





WhatsApp chat Live Chat