रिम्स का संवेदनहीन चेहरा ! लावारिस मरीज को अस्पताल से बाहर निकाला (देखें वीडियो)

सत्यव्रत किरण

रांची : राज्य के सबसे बड़े सरकारी अस्पताल होने का गौरव पाने वाले रिम्स की मानवता शायद खत्म हो गई है. ऐसा लगता है कि रिम्स प्रबंधन ने कसम खा रखी है कि वह अपनी कार्यशैली नहीं बदलेगा. एक बार फिर रिम्स में ही भर्ती लावारिस मरीज को रिम्स में बाहर का रास्ता दिखा दिया गया. मरीज को अस्पताल के बाहर मरने के लिए छोड़ दिया. मरीज जमीन पर लेटा हुआ बेसुध सा पड़ा था. उसके शरीर पर मक्खियां मंडरा रही थीं. उस मरीज के शरीर में इतनी ताकत भी नहीं थी कि वह उन मक्खियों को भगा सके. वहीं समाजसेवी संगठनों की भी पोल खुल गयी. एक भी संगठन या समाजसेवी इस मरीज की मदद के लिए आगे नहीं आया.




रिम्स परिसर में तड़पता मौत का इंतजार करता लावारिस मरीज ने उन सभी संस्थाओं की पोल खोल कर रख दी जो रहनुमा होने के दावे करते हैं. समाज ने साथ छोड़ दिया, रिम्स में भी इलाज से मना कर दिया, परिवारवालों को भी सुध लेने का समय नहीं. इस मतलबी दुनिया से भरोसा उठ गया, अब तो ऊपर वाले का ही भरोसा है की जल्दी अपने पास बुलाले, क्योंकि शायद इस बदनसीब को अब जीना का कोई हक़ नहीं.

पिछले दिनों ही इन लावारिस मरीजों की समस्या को news11 ने प्रमुखता से दिखाई थी, जिसके बाद डालसा के पारा लीगल वालंटियर की टीम ने इलाज के लिए रिम्स में भर्ती कराया था. मगर किसी के देखरेख नहीं होने के कारण अब यह बाहर पड़ा है और अपनी मौत का इंतजार कर रहा है. सवाल यह  है कि ऐसी तस्वीर आखिर कब तक देखने को मिलती रहेगी और रिम्स अपनी मानवता को कब तक शर्मसार करता रहेगा.





Loading...
WhatsApp chat Live Chat