Wednesday, Jan 22 2020 | Time 10:42 Hrs(IST)
 logo img
" "; ";
  • रेल टिकट दलालों का गोरख धंधा, गिरिडीह के मुस्तफा समेत 24 गिरफ्तार, आतंकियों से जुड़े हैं तार
  • रेल टिकट दलालों का गोरख धंधा, गिरिडीह के मुस्तफा समेत 24 गिरफ्तार, आतंकियों से जुड़े हैं तार
झारखंड


प्राइवेट पैथोलॉजी से महंगा रिम्स ! यहां के लैब में लगते हैं ज्यादा पैसे, निजी जांच घर जा रहे मरीज

प्राइवेट पैथोलॉजी से महंगा रिम्स ! यहां के लैब में लगते हैं ज्यादा पैसे, निजी जांच घर जा रहे मरीज
सत्यव्रत किरण

रांची : निजी जांच घर से महंगा है रिम्स का जांच शुल्क. महंगा होने के कारण मरीज रिम्स में जांच नहीं करना चाहते हैं. करीब एक वर्ष से रिम्स में सिटी स्कैन मशीन नहीं है, जिस वजह से मरीजों को काफी परेशानी हो रही है. रिम्स परिसर स्थित पीपीपी मोड पर चल रहे हेल्थ मैप पर मरीजों की भीड़ ज्यादा लगती है.

 

रिम्स में एमआरआई एवं सीटी स्कैन जांच का शुल्क निजी जांच लैब के जांच शुल्क से अधिक है जिसके कारण मरीज रिम्स में जांच नहीं कराना चाहते हैं यही कारण है कि रिम्स परिसर स्थित हेल्थ मैप जांच घर में मरीजों की संख्या ज्यादा है वहीं पिछले करीब 1 साल से रिम्स में सीटी मशीन उपलब्ध नहीं है

 

एमआरआई, एक्स-रे, अल्ट्रासाउंड जैसे रेडियोलॉजी जांच जिन मरीजों को मुफ्त में किया जाने का प्रावधान रिम्स में है. वैसे मरीजों को भी हेल्थ मैप जांच घर भेज दिया जाता है.

 

रिम्स के रेडियोलॉजी विभाग में सीटी स्कैन और एमआरआई जांच की शुल्क रिम्स स्थित पीपीपी मोड पर चलने वाले हेल्थ मैप जांच घर से कितना ज्यादा है.

 



























































  रिम्स का शुल्क हेल्थ मैप का शुल्क
 CT SCAN    
 प्लेन  1250/-  900/-
 स्पाइनल प्लेन  2000/-  1500/-
 नेक प्लेन  1800/-  1500/-
 नेक कंट्रास्ट  2000/-  1870/-
 MRI    
 स्पाइन विद स्क्रीनिंग  5000/-  2125/-
 आर्बिट विदाउट कंट्रास्ट  3500/-  1445/-
 हेड विदाउट कंट्रास्ट  3500/-  1998/-
 आर्बिट विद कंट्रास्ट  3500/-  2000/-

 

रेडियोलोजी के जूनियर डॉक्टरों ने रिम्स निदेशक को दी है जानकारी



रिम्स जांच घर के ज्यादा शुल्क की जानकारी रेडियोलोजी के जूनियर डॉक्टरों ने रिम्स निदेशक को दी है. जूनियर डॉक्टर ने कहा है कि निजी एजेंसी हेल्थ मैप में जांच शुल्क कम होने के कारण मरीज रिम्स में जांच नहीं कराते. इस वजह से विभाग के पीजी छात्रों की पढ़ाई भी प्रभावित हो रही है. रिम्स प्रबंधन को चाहिए कि राज्य का सबसे बड़ा सरकारी अस्पताल होने के कारण रिम्स के जांच शुल्क को कम से कम किया जाए, ताकि आर्थिक रूप से कमजोर मरीजों को सुविधा मिल सके. 


 



 


 

अधिक खबरें
रांची प्रेस क्लब चुनाव : 56 उम्मीदवारों ने भरा पर्चा, 22 जनवरी को नाम वापसी
जनवरी 21, 2020 | 21 Jan 2020 | 9:23 PM

रांची : रांची प्रेस क्लब के द्विवार्षिक चुनाव में नामांकन भरने की अंतिम तिथि 21 जनवरी तक 15 पदों के लिए कुल 56 उम्मीदवारों ने नामांकन पत्र दाखिल किया है.

सात पत्‍थलगड़ी विरोधियों की हत्‍या की सूचना, दो ग्रामीण गायब, पुलिस चला रही सर्च ऑपरेशन
जनवरी 21, 2020 | 21 Jan 2020 | 9:02 PM

पश्चिमी सिंहभूम जिले के गुदड़ी में पत्‍थलगड़ी के सात विरोधियों की हत्‍या की सूचना आ रही है. उपमुखिया समेत सात ग्रामीणों का हत्या की खबर आ रही है

टेरर फंडिंग मामला : तीन आरोपियों के खिलाफ NIA कोर्ट ने जारी किया गिरफ्तारी का वारंट
जनवरी 21, 2020 | 21 Jan 2020 | 8:32 PM

रांची : मगध अम्रपाली प्रोजेक्ट के दौरान टेरर फंडिंग के मामले में एनआईए कोर्ट ने ती आरोपियों के खिलाफ गिरफ्तारी का वारंट जारी कर दिया है.

कई जिलों के अधिकारियों पर गिर सकती है गाज
जनवरी 21, 2020 | 21 Jan 2020 | 8:09 PM

कई जिलों के अधिकारियों पर गाज गिर सकती है. चुनाव से पूर्व जेएमएम ने निर्वाचन पदाधिकारी को पत्र सौंपकर सरकार के पक्ष में पार्टी बनकर काम करने