ईदी देने का वादा कर गया था भाई, ईद में मिली अधजली लाश

dead body, truck driver, truck man, burned body, jharkhand news, ranchi, chanho चान्हो थाना के पंडरी में रहने वाला 28 साल का ट्रक ड्राइवर अबुल हसन अपनी बहनों से ईद में घर आकर ईदी देने का वादा कर गया था. लेकिन ईद के ही दिन अबुल की अधजली बॉडी की शिनाख्त उसके पिता को करनी पड़ी. शव की हालत काफी खराब थी. अबुल के पिता हबीब अंसारी कई बार देखने के बावजूद अपने बेटे का शव नहीं पहचान पाए. आखिर में उसके टूटे दांत देख बेटे की पहचान कर पाए.

मातम में बदली ईद की ख़ुशी




हबीब के मुताबिक, उनका बेटा जिसका ट्रक चलाता था, उसी ने अबुल को मारा है. पिछले एक हफ्ते से अबुल का कोई अता-पता नहीं था. आखिरी बार बहनों से हुई बातचीत में उसनें बहनों को ईद पर घर आने की बात कही थी. लेकिन घर आई उसकी लाश. परिवार वाले ईद में अबुल के घर आने की आस लगाए बैठे थे, लेकिन उसकी लाश मिलने से ईद की खुशियां मातम में बदल गई.

पिता का आरोप

हबीब ने अपने बेटे की हत्या का इल्जाम बालूमाथ थाना क्षेत्र के मासियातु निवासी जाहिद और अमजद पर लगाया है. उनका आरोप है कि दोनों भाइयों ने ही मिलकर उनके बेटे को मारा है. हबीब ने बताया कि ट्रक मालिक जाहिद दो तीन दिनों से उन्हें परेशान कर रहा था. उसका कहना था कि अबुल उनके 60-65 हजार रुपए लेकर भाग गया है. पैसे हबीब को लौटाने होंगे.





Loading...
WhatsApp chat Live Chat