रांची :जेएमएम विधायक अमित महतो को 2 साल की सजा,जा सकती है सदस्यता

रांची :जेएमएम विधायक अमित महतो मामले पर कोर्ट ने फैसला सुना दिया है. कोर्ट ने अमित महतो को 307 मामले मे बरी कर दिया है. जबकि 353 और 506 मामले में कोर्ट ने उन्हें दोषी माना है. बता दें, 506 धमकी और 353 सरकारी काम में बाधा डालने का मामला है. अमित महतो को 2 साल की सजा मिली है और 10 हजार रुपये का जुर्माना लगाया है. जुर्माना नहीं देने की सूरत में उन्हें 3 महीने की अतिरिक्त सजा भी भुगतनी होगी.

इधर, दोषियों की ओर से कोर्ट में जमानत की अर्जी दाखिल की गई. जिसे कोर्ट ने मंजूर कर लिया. अमित महतो को 10-10 हजार के दो मुचलको पर बेल मिल गई है. वहीं कोर्ट के फैसले के खिलाफ हाई कोर्ट में करेंगे अपील.

जा सकती है अमित महतो की सदस्यता

रांची सिविल कोर्ट के विशेष लोक अभियोजन पदाधिकारी गोरखनाथ दुबे के मुताबिक लिली थॉमस वर्सेस यूनियन ऑफ इंडिया मामले में सर्वोच्च न्यायालय ने कहा है कि न्यूनतम 2 वर्ष की सज़ा होने पर माननीय विधायक, लोक सभा सदस्य,एमएलसी की सदस्यता निरस्त होगी. इसके लिये व्यवहार में सदस्यता खत्म करने से पूर्व सरकार विधि विभाग से या महाधिवक्ता से मन्तव्य लेकर निर्णय लेती है.

बता दे कि जेएमएम विधायक अमित महतो ने आज राज्यसभा के लिए सबसे पहले वोटिंग की थी. हालांकि कोर्ट का फैसला उनके वोटिंग के बाद आया है. लिहाजा राज्यसभा के लिए अमित महतो का वोट मान्य होगा.

जा सकती है अमित महतो की सदस्यता


रांची सिविल कोर्ट के विशेष लोक अभियोजन पदाधिकारी गोरखनाथ दुबे के मुताबिक लिली थॉमस वर्सेस यूनियन ऑफ इंडिया मामले में सर्वोच्च न्यायालय ने कहा है कि न्यूनतम 2 वर्ष की सज़ा होने पर माननीय विधायक, लोक सभा सदस्य,एमएलसी की सदस्यता निरस्त होगी. इसके लिये व्यवहार में सदस्यता खत्म करने से पूर्व सरकार विधि विभाग से या महाधिवक्ता से मन्तव्य लेकर निर्णय लेती है.

बता दे कि जेएमएम विधायक अमित महतो ने आज राज्यसभा के लिए सबसे पहले वोटिंग की थी. हालांकि कोर्ट का फैसला उनके वोटिंग के बाद आया है. लिहाजा राज्यसभा के लिए अमित महतो का वोट मान्य होगा.

क्या है पूरा मामला

जेएमएम विधायक अमित महतो पर सोनाहातु के तत्कालीन सीओ अलोक कुमार पर जानलेवा हमला मामले में कोर्ट ने यह फैसला सुनाया है. हालांकि यह पूरा मामला 28 जून 2006 का है. जब सिल्ली से जेएमएम महलो और उनके साथ मौजूद अन्य आरोपियों ने न सिर्फ सीओ के साथ मारपीट की, बल्कि उनके कार्यालय में घुसकर तोड़फोड भी किया. इसके बाद सीओ ने अमित महतो समेत अन्य आरोपितों के खिलाफ सोनाहातु थाने में मामला दर्ज कराया था.

इससे पहले कोयला तस्करी मामले में गिरिडीह से जेएमएम विधायक योगेंद्र महतो को रामगढ़ कोर्ट ने तीन साल की सजा सुनाई. हालांकि उनके सदस्यता जाने का मामला अभी कोर्ट में लंबित है.

देखें वीडियों सजा होने के बाद अमित महतो से न्यूज 11 संवाददाता विनीत उपाध्याय की खास बातचीत



देखें वीडियो राज्यसभा चुनाव में वोट देने के बाद क्या बोले अमित महतो


इसे भी पढ़ें

झारखंड राज्यसभा चुनाव के लिए वोटिंग खत्म, शाम को शुरू होंगी वोटिंग

पीएचडी डिग्री वाले शहाबुद्दीन की दास्तान, कैसे बना राजनीति और अपराध का खिलाड़ी