मौजूदा रोजगार दर को बनाए रखने के लिए हर साल 81 लाख रोजगार सृजित करने की जरुरत- WB


नई दिल्ली : विश्व बैंक द्वारा जारी एक रिपोर्ट के अनुसार भारत को अपनी रोजगार दर को बरकरार रखने के लिए हर साल 8.1 मिलियन नौकरियां सृजित करने की जरुरत है. रिपोर्ट में यह भी अनुमान लगाया गया है कि देश की मौजूदा आर्थिक वृध्दि डर 7.3 प्रतिशत से बढ़कर आगामी 2 वर्षों में 7.5 फीसदी हो जाएगा. विश्व बैंक द्वारा साल में दो बार जारी होने वाली साउथ एशिया इकॉनोमिक फोकस रिपोर्ट ‘जाबलेस ग्रोथ’ में बैंक ने कहा है कि भारत की अर्थव्यवस्था में सुधार के कारण ही इस क्षेत्र ने सबसे तेजी से बढ़ते क्षेत्र का दर्जा फिर से हासिल कर लिया है.

चुनाव आयोग की चेतावनी, लालू के पार्टी का चुनाव चिन्ह खतरे में

रिपोर्ट में कहा गया है कि देश की वृध्दि दर 2019-20 और 2020-21 में बढ़कर 7.5 प्रतिशत हो जाएगी, साथ ही भारत को वैश्विक वृद्धि का फायदा उठाने के लिए निवेश और निर्यात बढ़ाने के सुझाव दिए हैं.

अमेठी प्रशासन ने राहुल गांधी को सड़क उद्घाटन से रोका, बीजेपी ने कहा- स्मृति करेंगी उद्घाटन

रिपोर्ट के अनुसार भारत में हर महीने 13 लाख लोग कामकाज करने की उम्र में प्रवेश कर जाते हैं. ऐसे में भारत को अपनी सालाना रोजगार दर को बनाए रखने के लिए 81 लाख नौकरियां पैदा करने की जरुरत है. जिसमें कि 2005-15 के आंकड़ों के अनुसार लगातार गिरावट देखि जा रही है. इसका एक मुख्य कारण महिलाओं का नौकरी से दूर रहना है.


ये भी पढ़ें...

झारखंड में नगर निकाय चुनाव की वोटिंग संपन्न, बासुकीनाथ में 76% तो रांची में मात्र 49% की वोटिंग

इस वर्ष 97 प्रतिशत बारिश होने के आसार - IMD