6 घंटे धूप में खड़ी कार में लॉक रहे मासूम बच्चे, तंदूर में तपे मांस की तरह हो गई थी बॉडी

सूरत: बच्चे काफी मासूम होते हैं. उन्हें पता ही नहीं होता कि खेल-खेल में किया गया काम उनकी जान तक ले सकता है. माता-पिता को यहां बच्चों का ख़ास ख्याल रखने की जरुरत होती है. गुजरात की सूरत में रहने वाले पेरेंट्स की गलती ये थी कि उन्होंने घर के बाहर खड़ी कार अनलॉक छोड़ दी थी. इस गलती ने उनसे उनके दोनों बच्चे छीन लिए.

 

सूरत के डीडोली के मानसी रेसीडेंसी में रहने वाले एक परिवार के दो बच्चे घर से बाहर निकले. लेकिन खेलते हुए अपनी कार में बैठ गये और कार लॉक हो गई. 6 घंटे तक दोनों 36 डिग्री तक तपती गाड़ी में बंद थे. दम घुटने की वजह से बच्चों की मौत हो गई.

 

बच्चों को काफी देर से कॉलोनी के लोग दूंढ रहे थे. लेकिन बच्चे कहीं नहीं मिले. शाम को जब कुत्तों ने कार के पास भौंकना शुरू किया तब लोगों की नजर कार पर पड़ी. बच्चों को देख पहले तो सबने राहत की सांस ली लेकिन जब उन्हें बाहर निकाला गया, तो वो मर चुके थे.

 

इतनी देर अंदर बंद होने के कारण उनका दम घुट चुका था. इतना ही नहीं, तेज गर्मी में उनकी स्किन पूरी तरह जल गई थी. ऐसा लग रहा था मानो उन्हें किसी ने भट्टी से बाहर निकाला था. बच्चों को देख सभी की आंखें भर गई. बच्चों के पेरेंट्स की रोते हुए बुरी हालत हो गई है.

 

ये भी पढ़ें...

बेहाल रिम्स का बर्न वार्ड, सिर्फ दिखावे के लिए लगे हैं एसी

बिहार: 9 महीने की बच्ची को घूमाने ले गया दरिंदा, दुष्कर्म कर फेंक दिया

आज आधी राजधानी को नहीं मिलेगा पानी, होगी रुक्का प्लांट की सफाई