धनबाद : कोल इंडिया कामगार भूमिगत खदान में मोनो रेल से उतरेंगे, ट्रायल रहा सफल


धनबाद : कोल इंडिया के कामगार जल्दी ही मोनो रेल से भूमिगत खदान में उतरेंगे. बीसीसीएल के वेस्टर्न झरिया एरिया के मुनीडीह खदान में मोनो रेल का ट्रायल सफल रहा है. यहां खदान के अंदर अभी 250 मीटर तक इसका विस्तार किया गया है. इसका पूरे खदान में पांच किमी एरिया में विस्तार किया जाना है. इसमें करीब 1200 करोड़ की लागत आई है.

रांची : सीएम की समीक्षा बैठक, कहा- अधिकारी मिशन मोड में योजनाओं पर करें काम

- एक बोगी में 6 से 14 लोग एक साथ जा सकेंगे.

- मार्च 2017 में यह प्रोजेक्ट शुरू हुआ था.

- 11 मई 2018 को ट्रायल सफल रहा.

- 1200 करोड़ का यह प्रोजेक्ट दो साल में पूरा होगा.

कंपनी यह काम कर रही है. दो साल में प्रोजेक्ट पूरा होगा. इसी रास्ते से बड़ी ट्रॉली से कोयला भी निकाला जाएगा. देश में यह योजना सबसे पहले झरिया में शुरू हो रही है. कोल इंडिया अगले वित्तीय वर्ष में अपनी अन्य अनुषांगिक इकाइयों में भी यह योजना शुरू करने की योजना बना रही है.

देवघर को मिला तोहफा, केंद्रीय कैबिनट की मिली मंजूरी, देवघर में बनेगा एम्स

अभी भूमिगत खदानों में उतरना काफी जोखिम भरा होता है. कामगार सिर पर टोपी और लाइट, हाथ में डंडा और पीठ पर बैटरी बांधकर सीढ़ियों या रस्सा से बनी डोली  से भूमिगत खदान में उतरते हैं. कामगारों को कम से कम तीन किलोमीटर तक इसी तरह अंदर जाना पड़ता है और बाहर निकलना पड़ता है. कई खदान तो पांच-पांच किमी के दायरे में है. पानी रिसने से रास्ते में फिसलन का भी डर बना रहता है. रोजाना सीढ़ियों से अंदर जाने और बाहर निकलने के कारण कामगारों को काफी परेशानी होती है.

स्वच्छ सर्वेक्षण 2018 में झारखंड को बेस्ट परफॉरमिंग स्टेट का अवार्ड, नगर विकास मंत्री ने बधाई दी

बीसीसीएल के वेस्टर्न झरिया एरिया के जीएम जेएस महापात्रा ने कहा-मुनीडीह खदान में मोनोरेल का ट्रायल सफल रहा है. दो साल के भीतर हर हाल में पूरे खदान में इसे लागू कर देना है. यह टू इन वन के रूप में काम करेगा. यानी इसी रास्ते से मोनोरेल से कामगार खदान में उतरेंगे और इसी रास्ते से बड़ी ट्रॉली से कोयला भी बाहर निकाला जाएगा. यह योजना कोल इंडिया में ऐतिहासिक और सकारात्मक परिवर्तन लाएगी.


ये भी पढ़ें...

कर्नाटक राजनीति : बीजेपी का आरोप, कहा- हमारे फोन टेप हो रहे हैं

पटना: वाहन चालक ने तीसरी कक्षा के छात्र से किया दुष्कर्म