अपना और अपने बेटे का सरकारी बंगला बचाने सीएम आदित्यनाथ के पास पहुंचे मुलायम


लखनऊ : समाजवादी पार्टी संरक्षक मुलायम सिंह यादव ने अपना सरकारी बंगला बचाने के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मुलाकात की है. बता दें की सुप्रीम कोर्ट ने यूपी के पूर्व मुख्यमंत्रीयों से उनका सरकारी बंगला खाली करने का आदेश दिया था.

4 रूपए तक महंगा होगा पेट्रोल-डीजल, ये होगी वजह

आधे घंटे तक चली मुलाकात में उन्होंने उनके और अखिलेश यादव के सरकारी बंगले नेता प्रतिपक्ष राम गोविंद चौधरी और नेता विधान परिषद अहमद हसन को दे दिए जाएं. बातचीत में यह भी बात सामने आई है कि कल्याण सिंह को दिए बंगले को मुलायम सिंह के पोते और राज्य मंत्री सदीप सिंह के नाम कर दिए जाएं. हालांकि इसका क्या परिणाम आया, इसकी जानकारी अभी नहीं है.

भारतीय डाक विभाग ने ग्रामीण डाक सेवक के पदों पर निकाली वैकेंसी

गौतलब है कि पूर्व मुख्यमंत्रियों को दिए गए सरकारी बंगले काफी बड़े होते हैं और इनका रख- रखाव भी सरकारी पैसों से होता है. इनके रख-रखाव के लिए उन्हें मामूली सा किराया देना होता है. बता दें कि विक्रमादित्य मार्ग स्थित बंगला मुलायम सिंह को साल 1992 में अलोट किया गया था, जिसे उन्होंने अभी तक अपने कब्जे में रखा है.


ये भी पढ़ें...

पाकिस्तान की तर्ज पर काम कर रही है न्यायपालिका- राहुल गांधी

OnePlus6 भारतीय बाजारों में लांच, ये होगी उसकी प्राइस और स्पेसिफिकेशन