दुष्‍कर्म पीड़िता ने किया आत्‍मदाह का प्रयास, पुलिस पर कार्रवाई न करने का लगाया आरोप

dhanbadधनबाद : दुष्‍कर्म की शिकायत पर पुलिस द्वारा कोई कार्रवाई नहीं करने से परेशान महिला ने गुरुवार को डीसी कार्यालय पहुंचकर आत्‍मदाह का प्रयास किया. डीसी कार्यालय मे पदस्‍थापित सुरक्षा गार्डों व स्‍थानीय लोगों ने महिला को आत्‍मदाह करने से रोका और पुलिस के हवाले कर दिया.

मिली जानकारी के अनुसार चिरकुंडा थाना क्षेत्र के तालडांगा निवासी महिला के साथ सिकंदर आलम और सैफु ने जबरन दुष्‍कर्म का प्रयास किया था. महिला ने इसकी शिकायत थाना में की थी. मगर अबतक मामले में कोई कार्रवाई नहीं होने से परेशान होकर महिला ने डीसी कार्यालय के समक्ष आत्‍मदाह का प्रयास किया. महिला ने खुद पर तेल छिड़कर आग लगाने की कोशिश की, मगर वहां मौजूद सुरक्षागार्डों व स्‍थानीय लोगों ने महिला को पकड़ लिया और पुलिस के हवाले कर दिया. महिला ने कहा कि आवेदन देने के बाद कई बार शिकायत की गई, मगर मामले में कोई कार्रवाई नहीं हुई.




इस मामले में 29 सितम्बर को चिरकुंडा थाने में आरोपियों के विरुद्ध पीड़िता लिखित शिकायत भी दर्ज कराई थी. आरोपियों के विरुद्ध किसी तरह की कार्रवाई नहीं होने पर 23 अक्‍टूबर को पीड़िता ने मुख्यमंत्री को लिखित आवेदन देकर आरोपियों के विरुद्ध कड़ी क़ानूनी कार्रवाई करने की फरियाद लगाई थी. लिखित शिकायत में पीड़िता ने यह भी चेतावनी दी थी की कार्रवाई नहीं होने पर 8 नवम्बर को उपायुक्त कार्यालय के सामने आत्मदाह करेगी. पीड़िता ने बताया कि उपरोक्त आरोपी उनकी 7 वर्षीय बेटी के साथ छेड़खानी की है. पीड़िता के मुताबिक उसके पति पिछले चार वर्षों से गायब हैं. चिरकुंडा के ही रहने वाले कासिम , सोनू , तिरका और सिकंदर ने उसके साथ दुष्कर्म का प्रयास किया है.

इस मामले में महिला थाना प्रभारी ने बताया कि आत्मदाह की कोई सूचना नहीं थी, लेकिन महिला पूर्व में एक छेड़खानी की शिकायत लेकर महिला थाने आई थी, जिसका निष्पादन कर दिया गया है. अगर फिर से महिला आवेदन देती है तो फिर से सम्बंधित लोगों को महिला थाना बुलाया जायेगा, जिसके बाद आगे की कार्रवाई की जायेगी.





Loading...
WhatsApp chat Live Chat