NEWS11

Bihar National

सुप्रीम कोर्ट ने बिहार के 3.5 लाख नियोजित शिक्षकों को दिया झटका, नहीं होगा समान वेतनमान

नई दिल्‍ली : सुप्रीम कोर्ट ने बिहार के करीब 3.5 लाख नियोजित शिक्षकों को झटका दिया है. कोर्ट ने बिहार सरकार की अपील मंजूर करते हुए पटना हाईकोर्ट के फैसले को निरस्त कर दिया है. हाईकोर्ट ने समान काम के लिए समान वेतन की मांग को लेकर आंदोलनरत शिक्षकों के हक में फैसला सुनाया था, जिसके खिलाफ प्रदेश सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की थी.

बता दें कि इससे पहले सुप्रीम कोर्ट में इस मामले को लेकर 11 याचिकाओं पर सुनवाई हुई थी, जिसके बाद कोर्ट ने 3 अक्टूबर 2018 को फैसला सुरक्षित रख लिया था. करीब 3 लाख 56 हजार नियोजक शिक्षक तभी से इस फैसले का बड़ी बेसब्री से इंतजार कर रहे थे.

बिहार में समान कार्य के लिए समान वेतन की मांग को लेकर नियोजित शिक्षक काफी समय से आंदोलन कर रहे थे. पटना हाईकोर्ट ने आंदोलन कर रहे शिक्षकों के हक में फैसला सुनाया था और बिहार सरकार को समान वेतन देने का निर्देश दिया था. बिहार की नीतीश सरकार ने हाईकोर्ट के फैसले के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल की थी. सुप्रीम कोर्ट ने इस मामले में फैसला सुरक्षित रखने से पहले याचिका पर सुनवाई की थी. शिक्षक संघ की तरफ से अधिवक्ता ने कोर्ट में कहा था कि पटना हाईकोर्ट ने समान काम-समान वेतन के पक्ष में सही फैसला दिया है. सरकार फैसले को लागू नहीं कर बेवजह नियोजित शिक्षकों को परेशान कर रही है.

Related posts

शांति बहाली के लिए आतंकवाद से मुक्त वातावरण आवश्यक : मोदी

Rajesh

गुजरात पहुंचे पीएम नरेंद्र मोदी, पैर छूकर मां से लिया आशीर्वाद

Rajesh

कोलकाता के पूर्व कमिश्‍नर राजीव कुमार के घर पहुंची सीबीआई की टीम

Rajesh

अमेठी पहुंची स्‍मृति ईरानी, सुरेंद्र सिंह की अ‍र्थी को दिया कंधा

Rajesh

करारी हार के बाद उपेंद्र कुशवाहा को लगा एक और बड़ा झटका, पार्टी के दोनों विधायक जदयू में शामिल

Rajesh

30 मई को नरेंद्र मोदी लेंगे पीएम पद की शपथ

Rajesh