BREAKING

छात्रा का MMS बनाने के आरोपी युवक निकले निर्दोष, आपसी रंजिश की वजह से रची गई थी साजिश

Hazaribagh : इन दिनों हजारीबाग में युवकों पर झूठा आरोप लगाकर पब्लिक से पिटवाना आम बात हो चली है। इतना ही नहीं पिटाई के साथ उसे थाने में झूठे केस में फंसाने से भी परहेज नहीं करते हैं। ऐसे मामले दिन-ब-दिन बढ़ते ही जा रहे हैं। इसी क्रम में कुछ दिन पहले पब्लिक ने दो लड़कों की जमकर पिटाई कर दी थी। युवकों पर आरोप लगाया गया था कि वह बाथरूम के वेंटीलेटर से एक छात्रा का एमएमएस बना रहा था।

इसे भी पढ़ें – बालिका वधु बनने से बची दो बेटियां, परिजन जबरन कराना चाहते थे शादी

क्या है मामला

दरअसल, कुछ दिन पहले दो लड़कों को छात्रा का एमएमएस बनाने के प्रयास के आरोप में पब्लिक ने जमकर पीट दिया था। मामले को ले कर हजारीबाग के कोर्रा टीओपी में आवेदन दे कर शिकायत भी की गयी थी। वहीं जब पुलिस ने पड़ताल की तो दोनों युवकों को निर्दोष पाया। पुलिस ने जांच में पाया कि वेंटीलेटर के पास किसी भी तरह से कोई फोटो भी नहीं लिया जा सकता, तो एमएमएस बनाना तो दूर की बात है।




आपसी रंजिश की वजह से युवकों को फंसाने की हो रही थी कोशिश

पुलिस की जांच में खुलासा हुआ कि कुछ लोगों ने आपसी रंजिश के कारण दोनों युवकों को शिकार बनाया था। कोर्रा टीओपी थाना प्रभारी ने बताया कि दोनों युवकों पर छात्रा का एमएमएस बनाने का झूठा आरोप लगाकर पहले तो जमकर पिटाई कर दी गयी। इसके बाद थाने में शिकायत भी दर्ज करवाया गया। थानाध्यक्ष ने बताया कि ऐसे मामले अक्सर थाने में आते हैं। आने वाले समय में ऐसे झूठा मामला दर्ज करवाने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जायेगी।

इसे भी पढ़ें – 



WhatsApp chat Live Chat