सेल प्रबंधक ने एसडीओ की वार्ता को भी ठुकराया, रैयत मजदूरों पर FIR की धमकी, दूसरे दिन भी अनशन जारी

अनशनचंदनकियारी : प्रखंड के सेल द्वारा अधिग्रहित पर्वतपुर कोल माइंस में सेल प्रबंधन के वादा खिलाफी के विरोध में बिहार कोल माइंस यूनियन के बैनर तले मंगलवार को दूसरे दिन भी रैयतों का घेरा डालो एंव डेरा डालो आंदोलन अनिल बावरा की अध्यक्षता में जारी रहा.

सेल कम्पनी के जीएम एके घटक सख्त रवैया अपनाने में लगे हुए हैं. प्रबंधक का कहना है एसडीओ के त्रिपक्षीय वार्ता में कई खामियां हैं, जो कंपनी पूरा नहीं कर सकती है. इधर रैयतों ने प्रबंधन पर आरोप लगाया कि बीते 16 फरवरी 2018 को चास एसडीओ की अध्यक्षता में त्रिस्तरीय वार्ता हुई थी. जिसमें 35 रैयतों को नियोजन देने की बात की गई थी. परंतु प्रबंधन ने सारी वार्ता को दरकिनार करते हुए केवल कुछ  रैयतों को ही प्रशिक्षण दिया.

प्रबंधन ने ठेकेदार बदलने की बात कहकर उन्हें भी नियोजन से वंचित कर दिया है. सेल प्रबंधकों ने कहा कि जल्दी से कोलियरी के अंदर अनशन खत्म किया जाए, नहीं तो उनके खिलाफ थाने में एपआईआर दर्ज कराया जाएगा.




मंगलवार को सेल प्रबंधक, प्रशासन तथा रैयत मजदूरो के साथ  हो हल्ला के बीच लगभग चार घंटे तक चली वार्ता विफल रही. रैयत मजदूरों का कहना है  कि जबतक प्रबंधन नियोजन नहीं देगी, आंदोलन जारी रहेगा. इधर सेल प्रबंधन ने सख्त रवैया अपनाते हुए रैयतों को बाहर धरना प्रदर्शन करने का चेतावनी दी. प्रशासन ने अनशन स्थल पर काफी संख्या में अतिरिक्त पुलिस बल तैनात किया है. इस वार्ता में मौजूद प्रखंड के सीओ डॉक्टर प्रमोद राम ने दोनों पक्षों को समझाने की कोशिश की पर दोनों ही अपने-अपने बातों पर अड़े रहे.

ये थे मौजूद

मोके पर बनगड़िया ओपी प्रभारी कौशलेंद्र कुमार, अहमदाबाद ओपी प्रभारी दिनेश पासवान, भोलानाथ बाउरी, परीक्षित दशन्दि, सत्नारायण राय पंकज राजवर, मीना देवी, कलावती देवी, युगल रजवार, सुनीता देवी, सुधीर महतो, गीता देवी, ममता देवी, लक्ष्मी कुमारी सहित सैकड़ों रैयत मजदूर एंव सेल कंपनी के कई अधिकारी उपस्थित थे.





Loading...
WhatsApp chat Live Chat