बीएसएनएल के राजस्‍व में पिछले दो साल में आई तेज गिरावट, आरटीआई से मिली जानकारी

इंदौर : सार्वजनिक क्षेत्र की दूरसंचार कंपनी बीएसएनएल के राजस्व में पिछले दो साल के दौरान तेज गिरावट आई है. आरटीआई के तहत प्राप्त जानकारी के मुताबिक बीएसएनएल ने मौजूदा वित्त वर्ष के शुरुआती 10 महीनों (अप्रैल 2018-जनवरी 2019) में जीएसएम मोबाइल फोन सेवा से 4,000.81 करोड़ रुपए का राजस्व कमाया है. आरटीआई के तहत मिले पिछले पांच सालों के आंकड़ों के तुलनात्मक अध्ययन से पता चलता है कि दो साल पहले यानी वित्त वर्ष 2016-17 की समाप्ति तक जीएसएम मोबाइल फोन सेवा से बीएसएनएल का राजस्व पांच अंकों में दस हजार करोड़ रुपए के स्तर पर अथवा इससे ऊपर था. लेकिन वित्त वर्ष 2017-18 से दूरसंचार कंपनी की कमाई में गिरावट का सिलसिला शुरू हो गया और उसका सालाना राजस्व चार अंकों में रह गया.

मध्य प्रदेश के नीमच निवासी आरटीआई कार्यकर्ता चंद्रशेखर गौड़ ने गुरुवार को बताया कि उन्हें सूचना के अधिकार के तहत बीएसएनएल से यह जानकारी मिली है. गौड़ की आरटीआई अर्जी पर भेजे गये जवाब में यह भी बताया गया कि वित्त वर्ष 2017-18 में बीएसएनएल ने जीएसएम मोबाइल फोन सेवा से 7,148.09 करोड़ रुपए का राजस्व कमाया था.

उन्होंने कहा, ‘आरटीआई के तहत मिले इन आंकड़ों पर गौर करने से संकेत मिलता है कि बीएसएनएल के लिये मौजूदा वित्त वर्ष में जीएसएम मोबाइल फोन सेवा से होने वाली कमाई पिछले वित्त वर्ष के स्तर पर पहुंचना आसान नहीं है.’ आंकड़ों के मुताबिक, मोबाइल फोन सेवा से बीएसएनएल ने वित्त वर्ष 2016-17 में 11,215.61 करोड़ रुपए, वित्त वर्ष 2015-16 में 11,182.53 करोड़ रुपए और वित्त वर्ष 2014-15 में 10,890.35 करोड़ रुपए का राजस्व कमाया था.



Loading...
WhatsApp chat Live Chat