21 राज्यों में तीन दिन भारी बारिश का अलर्ट, केरल में अब तक 26 की मौत

Three days heavy rainfall alert 21 states 26 killed Keralaनई दिल्ली : केरल में भारी बारिश के बाद बाढ़ ने भयंकर तबाही मचा रखी है. जगह-जगह भूस्खलन की वजह से 26 लोगों की मौत हो चुकी है. मुख्यमंत्री पिनरायी विजयन ने स्थिति को काफी विकट करार दिया है. कन्नूर, इडुक्की, कोझिकोड, वायनाड, मल्लपुरम सबसे प्रभावित इलाके हैं. एर्नाकुलम, अलपुझा और पलक्कड जिले भी प्रभावित हैं.

बाढ़ प्रभावित इलाकों में राहत और बचाव का काम जारी है.  बीते दो दिनों में 10 हजार लोगों को राहत शिविरों में भेजा गया है. एनडीआरएफ की 6 टीमों को राहत और बचाव के अभियान में लगाया गया है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने केरल में भारी बारिश और बाढ़ के हालात को देखते हुएगुरूवार को पिनरायी विजयन से बात की और प्रभावित इलाकों में हर संभव सहायता की बात कही. केरल में भारी बारिश के चलते स्कूल, कॉलेजों को बंद रखने के आदेश जारी किए गए हैं. एनडीआरएफ ने हालात को गंभीर बताया है. नौसेना की ओर से भी राहत और बचाव के काम में मदद पहुंचाई जा रही है.

केरल से आने वाले केंद्रीय मंत्री केजे अल्फोंस ने कहा कि पांच दशकों में केरल में यह सबसे भयंकर बारिश है. पिछले पचास सालों में इसे सबसे बड़ी बारिश बताया है. भारी बारिश के कारण नदियां उफान पर हैं, जिस कारण राज्य के विभिन्न हिस्सों में कम से कम 24 बांधों को खोल दिया गया है. एशिया के सबसे बड़े अर्ध चंद्राकार बांध इडुक्की से पानी छोड़ दिए जाने से पहले रेड अलर्ट जारी कर दिया गया है. इससे पहले भारी बारिश के कारण कोच्चि अंतराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर दो घंटे के लिए विमानों की लैंडिंग रोक दी गई.




मौसम विभाग ने अगले तीन दिनों तक 21 राज्यों में जताई  भारी बारिश की आशंका

मौसम विभाग ने अगले तीन दिनों तक 21 राज्यों में भारी बारिश की आशंका जताई है. मौसम विभाग ने उत्तराखंड, उत्तर प्रदेश, जम्मू-कश्मीर, हिमाचल प्रदेशम, हरियाणा, दिल्ली, झारखंड, बिहार, पश्चिम बंगाल, सिक्किम, मध्य प्रदेश, अरुणाचल प्रदेश, असम, मेघालय, नागालैंड, मणिपुर, मिजोरम, त्रिपुरा, कर्नाटक, तमिलनाडु, केरल और अंडमान निकोबार द्वीप समूह में बारिश की आशंका जताई है. हिमाचल प्रदेश के कुल्लू में गुरुवार देर रात बादल फटने से टेन गांवों में काफी नुकसान हुआ है. राज्य में छह दिन भारी बारिश का अलर्ट जारी किया गया है. वहीं उत्तर प्रदेश के कई इलाकों में भारी बारिश के चलते एक जुलाई से अब तक 112 लोगों की मौत हो चुकी है. साथ ही सरयू नदी में उफान के कारण पूर्वी उत्तर प्रदेश के करीब 12 गांव इसके चपेट में हैं.

मौसम विभाग की साप्ताहिक रिपोर्ट के अनुसार अगस्त में 64.6 के औसत से 43 मिलीमीटर बारिश हुई है. आईएमडी की रिपोर्ट के अनुसार, देशभर में इस साल दक्षिण पश्चिम मानसून से एक जून से आठ अगस्त तक 474.8 मिलीमीटर बारिश हुई है. जबकि 526.7 मिमी बारिश होनी चाहिए थी.





WhatsApp chat Live Chat