तोपचांची अस्पताल में तड़पता रहा घायल युवक, डॉक्टर के अनुपस्थित रहने से नहीं हुआ इलाज

तोपचांचीगोमो (धनबाद) : पढ़ने में अटपटा जरूर लगता होगा लेकिन तोपचांची अस्पताल का यही हाल है. तोपचांची अस्पताल  में गंभीर रूप से घायल युवक काफी देर तक तड़पता रहा, मगर उसे कोई ईलाज मुहैया नहीं हो पाई. अस्पताल की  हालत इतनी खराब है कि जब भी कोई इमरजेन्सी में दुर्घटनाग्रस्त घायल या बीमार व्यक्ति तोपचांची अस्पताल पहुंचता है तो कोई डाक्टर चिकित्सा सेवा देने के लिए उपलब्ध नहीं रहते.

शुक्रवार को किसी ट्रेन से गिरकर एक घायल छात्र को खेशमी मुखिया बैजनाथ रजक तोपचांची अस्पताल लेकर पहुंचे. मगर काफी देर तक कोई चिकित्सक मौजूद नहीं रहने के कारण उसका समुचित इलाज  नहीं हो पाया. चिकित्सा प्रभारी डाक्टर जयंत कुमार को कॉल करने पर उन्होने फोन तक रिसीव नहीं किया. इधर 108 एम्बुलेंस में भी फोन करने पर वो भी समय पर उपलब्ध नहीं हुई.




इधर युवक के सिर में काफी गंभीर चोट के कारण लगातार खून बह रहा था. इधर दुर्घटना की सूचना पाकर  करीब एक घंटे बाद युवक के परिजन अस्पताल पहुंचे. परिजन घायल युवक को  एक प्राइवेट एम्बुलेंस से बेहतर ईलाज के लिए धनबाद ले गये, जहां से उसे रांची रेफर कर दिया. घायल युवक हरिहरपुर थाना क्षेत्र के हरिहरपुर गांव का रहने वाला 18 वर्षीय मो जफरूल्ला बताया जा रहा है. वह बलियापुर  में रहकर आईटीआई कर रहा था. शुक्रवार की सुबह वह बलियापुर से अपने गांव हरिहरपुर  गोमो लौट रहा था. तभी खेसमी रेलवे फाटक के पास  वह चलती ट्रेन से गिरकर गंभीर रूप से घायल हो गया.





Loading...
WhatsApp chat Live Chat