ग्रेटर नोएडा में गिरीं दो इमारतें, दो की मौत, कई लोगों के दबे होने की आशंका

ग्रेटर नोएडा : ग्रेटर नोएडा के शाहबेरी गांव में मंगलवार की रात दो इमारतें भरभराकर गिर गईं. बताया जा रहा है कि शाहबेरी में निर्माणाधीन बिल्डिंग के बगल में पहले से ही एक बिल्डिंग बनी हुई थी. पुरानी इमारत निर्माणाधीन इमारत पर गिर गई और दोनों इमारतों को नुकसान पहुंचा है. पुरानी इमारत में कुछ परिवार रह रहे थे. नई इमारत में मजदूर सो रहे थे. इस दुर्घटना से दोनों इमारतों में सो रहे लोग फंसे हुए हैं.

इस बीच NDRF की टीम ने दो शवों को मलबे से निकाला है. एनडीआरएफ की टीम के साथ डॉग स्क्वॉड की टीम भी मौके पर बचाव कार्य में जुट गई है. घायलों को अस्पताल पहुंचाने के लिए 12 एंबुलेंस भी मौके पर मौजूद है. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इस मामले का संज्ञान लिया है. उन्होंने जिलाधिकारी से बात कर कहा है कि एनडीआरएफ और पुलिस की मदद से तुरंत राहत और बचाव कार्य को अंजाम दिया जाए.




ये है पूरा घटनाक्रम

रात 9 बजे नोएडा फायर सर्विस और नोएडा पुलिस को बताया गया कि ग्रेटर नोएडा के शाबेरी गांव में दो बिल्डिंग गिर गई हैं. तकरीबन 9:45 बजे नोएडा पुलिस मौके पर पहुंची. जबकि NDRF की टीम रात 11:00 बजे पहुंची. लगभग 11:30 बजे से NDRF की चार टीमों ने बचाव कार्य शुरू किया. सबसे पहले डॉग स्कवॉयड की मदद से जीवितों का पता लगाने की कोशिश की गई. लगभग रात 1:15 बजे मलबे से दो शव निकाले गए. वहीं रात 2:00 बजे से जेसीबी मशीन से मलबे को हटाने का काम शुरू हुआ.

हादसे में 20 लोगों के फंसे होने की सूचना

मंगलवार रात करीब नौ बजे अचानक पुरानी इमारत निर्माणाधीन इमारत पर भरभराकर गिर पड़ी. हादसे में 20 लोगों के फंसे होने की सूचना है. पुलिस, फायर ब्रिगेड और एनडीआरएफ की 2 टीमें बचाव कार्य में जुटी हैं. क्रैन के सहारे मलबे को हटाने का काम जारी है. कुछ लोगों को निकाला गया है, लेकिन अभी भी काफी लोगों के दबे होने की खबर है.

मजदूरों के मलबे में दबे होने की आशंका

मुख्य दमकल अधिकारी अरुण कुमार सिंह ने बताया कि थाना बिसरख क्षेत्र के गांव शाहबेरी की इस इमारत में दर्जनभर मजदूर रह रहे थे. उन्होंने बताया कि मजदूरों के मलबे में दबे होने की आशंका है. दमकल विभाग की गाड़ियां मलबा हटाने का काम कर रही हैं.





WhatsApp chat Live Chat