उज्ज्वला दिवस कल, दिसंबर तक हर गरीब के घर सिलिंडर का टारगेट

ujjwala diwas tomorrow रांची: प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के तहत गरीब परिवार की महिलाओं को मुहैया कराए जो रहे गैस सिलेंडर के साथ चूल्हे की प्रक्रिया को पूरे राज्य में पूरा कर लिया जाएगा. बीस सूत्री कार्यक्रम कार्यान्वयन समिति के उपाध्यक्ष राकेश प्रसाद ने गुरुवार को तेल कंपनियों के प्रतिनिधियों के साथ बैठक में इस अवधि तक लक्ष्य प्राप्ति के सीएम के लक्ष्य से अवगत कराया. उन्होंने कहा कि राज्य सरकार दिसंबर 2018 तक गरीब परिवार की महिलाओं को धुंए से मुक्ति दिलाकर उनके जीवन में बदलाव लाएगी.

उन्होंने बताया कि पूरे राज्य में 14 जुलाई को उज्ज्वला दिवस मनाया जाएगा. इस दिन चयनित लाभुकों के बीच गैस सिलेंडर एवं चूल्हे का वितरण किया जाएगा. नए लाभुकों के केवाईसी भी भरे जाएंगे. नेपाल हाउस सचिवालय में हुई समीक्षा बैठक में अब तक की उपलब्धियों के आंकड़े भी साझा किए गए. बताया गया कि अब तक कुल स्वीकृत 21,24,936 केवाईसी फार्म के विरुद्ध 16,34,919 गैस सिलेंडरों का वितरण चूल्हे के साथ किया जा चुका है.




तेल कंपनियों के प्रतिनिधियों ने बताया कि एसटी-एससी का प्रमाणपत्र तेजी से निर्गत होने पर यह प्रक्रिया और तेज होगी. राकेश प्रसाद ने बताया कि हाल ही में हुई 20 सूत्री की बैठक में मुख्यमंत्री ने अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति के लाभुकों के बीच जाति प्रमाणपत्र जारी करने की प्रक्रिया तेज करने को कहा है, जिस पर अमल किया जा रहा है. तेल कंपनियों के प्रतिनिधियों ने बताया कि एक जुलाई से उज्ज्वला योजना के लाभुक अपनी सुविधानुसार 14 किलो अथवा पांच किलोग्राम के सिलेंडर ले सकते हैं. अब पांच किलोग्राम के सिलेंडर पर भी सब्सिडी देने का प्रावधान किया गया है. बैठक में इंडियन ऑयल के राज्य प्रमुख हरीश दीपक, बीपीसीएल के राज्य प्रमुख शालीन सूद एवं एचपीसीएल के राज्य प्रमुख प्रणय कुमार उपस्थित थे.





WhatsApp chat Live Chat