झाड़ू के साथ प्रदर्शन, महिलाओं और ग्रामीणों ने कहा- नहीं होने देंगे भू माफ़ियों के मनसूबे को कामयाब

Villagers women demonstrate geo mafisधनबाद : कोयलांचल  के  गोविंदपुर में श्मशान और पशुओं के चारागाह वाले 14 एकड़ (गोचर भूमि)  सरकारी जमीन पर भूमाफियायों  के द्वारा कब्जा जमाने की कोशिश का महिलाओं ने शनिवार को झाड़ू के साथ प्रदर्शन कर विरोध जताया. गोविंदपुर  सीओ पर भूमाफियाओं से साठ गांठ का आरोप लगाते हुए उसके खिलाफ जमकर नारेबाजी की. प्रदर्शन में महिलाओं के साथ बड़ी संख्या में बच्चों और अन्य ग्रामीणों ने भी आंदोलन में हिस्सा लिया.

ये है मामला

गोविन्दपुर के खड़क में शनिवार सुबह से ही महिलाओं का जुटान होने लगा था. महिलाएं हाथ में झाड़ू लेकर भू-माफियाओं के खिलाफ आंदोलन के लिए आवाज बुलंद करने में लगी थी. आंदोलन के पीछे ग्रामीणों के पशुओं के चारागाह एवं श्मशान घाट को धनबाद शहर के भूमाफियाओं के द्वारा स्थानीय कुछ युवकों के सहयोग से कब्जा करने की जबरन कोशिश बताई जा रही है.

जेएमएम की बैठक, 16 जुलाई को राजभवन में विपक्ष का महाधरना




आंदोलनकारी ग्रामीणों  का आरोप है कि राजस्व  कर्मचारी  और अंचलाधिकारी के सहयोग से भू-माफिया गांव के 14 एकड़ जमीन  पर कब्ज़ा करने के कोशिश कर रहे हैं. 2011 से ही भू-माफियाओं की नजर इस ग्रामीण इलाके की बंजर पड़ी जमीन पर है. उस इलाके के कई एकड़  सरकारी जमीन को भूमाफियाओं ने गांव के कुछ लोगों को अपने साथ कर अपने नाम  करवा लिया है. इसमें सरकारी मुलाजीमो की गतिविधि भी संदिग्ध है. इसलिए सड़क निर्माण का कार्य शुरू किया जा रहा है. स्थानीय लोग सरकारी जमीन पर कब्जे की कोशिश का  पुरजोर विरोध करेंगे. इसके लिए जिले के डीसी से मिलकर भी न्याय की गुहार लगाएंगे.

दूसरे पक्ष का बयान, सड़क नही रहेगी तो क्या उड़ कर जमीन पर जाएंगेVillagers women demonstrate geo mafis

वहीं दूसरे पक्ष का कहना है कि वह सरकारी जमीन पर कब्जा नहीं कर रहे हैं बल्कि मुख्य सड़क से काफी दूर  उनका जमीन है और उस जमीन पर जाने के लिए नक्शे में जो  सड़क है उसी सड़क को निर्माण कराने का प्रयास कर रहे हैं, जिसका कि गांव के कुछ लोग विरोध कर रहे हैं और महिलाएं विरोध करने वालों का साथ दे रही हैं. सड़क बनने से न सिर्फ आसपास के लोगों को फायदा होगा बल्कि इलाके का भी विकास होगा.





WhatsApp chat Live Chat