माइक्रोसॉफ्ट को पछाड़ अमेजन बनी दुनिया की पहली कंपनी, 796.8 बिलियन डॉलर का हुआ मार्केट कैप

नई दिल्ली : माइक्रोसॉफ्ट को पछाड़ कर अमेजन दुनिया की पहली कंपनी बन चुकी है. अमेजन का बाजार पूंजीकरण यानि की मार्केट कैप 796.8 बिलियन डॉलर हो गया है जो माइक्रोसॉप्ट से 13.2 बिलियन डॉलर ज्यादा है. ज्योफ बेजो की अगुवाई में अमेजन ने व्यापार में जबरदस्त उछाल दर्ज की है. ऑन लाइन बुकसेलिंग से लेकर रिटेल कैटेगरी में अमेजन की बादशाहत कायम है.

पिछले साल माइक्रोसॉफ्ट अमेरिका की सबसे मूल्यवान कंपनी बन गई थी. जिसका बाजार पूंजीकरण (मार्केट कैप) 753.3 अरब डॉलर था, जबकि एप्पल साल 2010 के बाद से पहली बार दूसरे नंबर पर पिछड़ गई. एप्पल अगस्त में अमेरिका की पहली 1,000 अरब डॉलर वाली कंपनी बनी थी, जिसका मार्केट कैप शुक्रवार को घटकर 746.8 अरब डॉलर हो गया, जिसका प्रमुख कारण आईफोन की उम्मीद से कम बिक्री होना है और ऐसी खबरें आ रही है कि कंपनी के आपूर्तिकर्ता अपने लागत और कार्यबल में कटौती कर रहे हैं.




पिछले साल अमेजन 736.6 अरब डॉलर के साथ तीसरे नंबर पर थी. अल्फाबेट (गूगल की पैरेंट कंपनी) 725.5 अरब डॉलर के साथ चौथे नंबर पर है. एमएसपॉवरयूजर ड़ॉट कॉम की रिपोर्ट में कहा गया कि ‘माइक्रोसॉफ्ट ने अपने तीन प्रतिद्वंदियों को पछाड़ दिया है, जिसमें अल्फाबेट इंक. भी शामिल है. यह कंपनी सिलिकॉन वैली की दिग्गजों में सबसे मूल्यवान प्रौद्योगिकी कंपनी है. अपने अजूरे क्लाउड, गेमिंग और सरफेस लैपटॉप पोर्टफोलियो के कारोबार में वृद्धि से माइक्रोसॉफ्ट ने वित्त वर्ष 2019 की पहली तिमाही में 29.1 अरब डॉलर का राजस्व और 8.8 अरब डॉलर का मुनाफा दर्ज किया था.



Loading...
WhatsApp chat Live Chat