अक्षय नवमी पर महिलाओं ने की आंवला वृक्ष की पूजा

पाकुड़ : जिला के महेशपुर, पाकुड़िया समेत अन्य प्रखंडों के  देवीनगर गांव के विवाहित  महिलाएं एकजुट होकर संतान और सौभाग्यवति की कामना करते हुए आंवला वृक्ष  की पूजा की. लोगों का मानना है कि अमृत वृक्ष पूजन करने पर अक्षय फल की प्राप्ति होती है, इस विशेष दिन किया गया कार्य से पुण्य कभी समाप्त नहीं होता है.




मौके पर दर्जनों महिला उपस्थित होकर आंवले के पेड़ के नीचे दान, पूजा, हवन और ब्राह्मण को भोजन करवाकर पुण्य की भागी बनी. महिलाएं  पूजा कर  संतान सुख और संतान के मंगल कामना के लिए पूजा करती है. इस दौरान महिलाओं  में काफी उत्साह देखा गया.





Loading...
WhatsApp chat Live Chat